लॉकडाउन के दौरान चारों ओर से नेकी, सेवा और सद्भावना की कहानियां सामने आ रही हैं। आज हमारे साथ फ़िल्म अभिनेत्री सारा अली ख़ान जुड़ी हुई हैं जो उन कोविड नायकों की एक अत्यंत सुंदर कहानी को याद कर रही हैं, जिन्होंने ज़रूरतमंद लोगों की मदद के लिए धर्म और मज़हब को किनारे रख दिया है। दिल्ली के कालू सराय में हर सुबह गुरुद्वारा श्री सिंह सभा से दो स्वयंसेवी (वॉलेंटियर) हरबंस सिंह और सुरेंदर सिंह मस्जिद जाकर असलम चौधरी और उनकी टीम से मिलते हैं। फिर मस्जिद में ही सभी मिलकर दक्षिणी दिल्ली के ज़रूरतमंदों के लिए क़रीब सात सौ पैकेट खाना तैयार कर उसे बांटते हैं।

जीवन के तराने को ध्यान में रखते हुए, जसबीर जस्सी की दिल छू जाने वाली गुरबानी के प्रस्तुतिकरण के साथ सारा अली से हमारी बातचीत ख़त्म हुई।